shabd-logo

थाईलैंड की राजकुमारी

16 दिसम्बर 2022

4 बार देखा गया 4
थाइलैंड की राजकुमारी थाइलैंड के राजघराने की राजकुमारी है। पहली बार होगा जब थाईलैंड के शाही परिवार का कोई सदस्य लोकतांत्रिक पद पाने के लिए चुनाव में खड़ा हो. उनकी पार्टी थाई रक्षा चार्ट पार्टी पूर्व प्रधानमंत्री थकसिन चिनावट की समर्थक मानी जाती है. पहले थकसिन और फिर प्रधानमंत्री बनी उनकी छोटी बहन यिंगलक ने भ्रष्टाचार के आरोपों के चलते देश छोड़ दिया था, जिसके बाद चिनावट परिवार के राजनीतिक युग का अंत तय माना जा रहा था. लेकिन देश से दूर होने के बावजूद चिनावट परिवार का थाई राजनीति में दखल बना हुआ है. और अब राजकुमारी की पार्टी का समर्थन मिलना उनकी राजनीति में वापसी की ओर इशारा हो सकती है. इससे पहले शाही परिवार किसी राजनीतिक दल का पक्ष लेते नहीं देखा गया था.
थाईलैंड में राजा और शाही परिवार का बहुत सम्मान है और उनके खिलाफ कुछ भी कहना या करना बर्दाश्त नहीं किया जाता. ऐसे में सवाल यह भी है कि प्रधानमंत्री पद के लिए जो कोई भी उम्मीदवार खड़ा होता है वह शाही परिवार के खिलाफ दिखेगा. ऐसे में अपनी उम्मीदवारी पेश करने वाले वर्तमान प्रधानमंत्री प्रयुथ चान-ओचा के साथ चुनावी मुकाबला बराबरी का नहीं माना जा सकता. 2014 में लोकतांत्रिक तरीके से चुनी गई सरकार का तख्तापलट करने के बाद से देश का शासन चला रहे प्रधानमंत्री असल में सेना की ओर से काम कर रहे हैं और देश की सेना हमेशा शाही परिवार की वफादार रही है. ऐसे में उनके लिए राजकुमारी को पीएम पद के लिए चुनौती देने की स्थिति भी देश के इतिहास में बिल्कुल नई है. हालांकि उन्होंने देश के संविधान और चुनावी कानूनों में ऐसे बदलाव किए हैं जिससे किसी ऐसे व्यक्ति का चुन कर आना कठिन होगा, जिसे सेना का समर्थन हासिल ना हो. थाईलैंड में चुनाव 24 मार्च को होने हैं. 

अमेरिका की मिशिगन यूनिवर्सिटी में दक्षिणपूर्व एशियाई मामलों के जानकार और राजनीति विशेषज्ञ एलेन हिकेन कहते हैं, "यह कदम एक गेम चेंजर है." वे बताते हैं कि अगर चिनावट-समर्थक पार्टी चुनाव जीत जाती है तो सेना और शाही समर्थकों के लिए ऐसे चुनावी नतीजों पर सवाल उठाना, उसका विरोध करना और उन्हें रद्द करवाने की कोशिश करना बहुत कठिन हो जाएगा. हिकेन कहते हैं, "अगर मान लें कि राजकुमारी उबोलरत्ना राजा की सहमति से ऐसा कर रही हैं तो इसका मतलब ये भी हो सकता है कि राजा खुद शाही परिवार को सेना से अलग दिखाना चाहते हों. हालांकि अभी निश्चित तौर पर ऐसा नहीं कहा जा सकता है." 
2016 में थाईलैंड के राजा भूमिबोल अदुल्यादेज ने दुनिया को अलविदा कहा था. राजकुमारी उबोलरत्ना उनकी सबसे पहली संतान थीं, जो अब 67 साल की हैं. राजा की दूसरी संतान एक बेटा था, जो कि अब थाईलैंड के राजा हैं. सन 1972 में राजकुमारी ने एक अमेरिकी से शादी की और उसके साथ अमेरिका रहने चली गईं. इसी के साथ उनसे सर्वोच्च शाही खिताब भी छिन गए. वे अपने पति से मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी में पढ़ाई के दौरान मिली थीं. उनके तीन बच्चे हैं जिनमें से एक की सुनामी की चपेट में आने से असमय मौत हो गई. सन 2001 में राजकुमारी अपने अमेरिकी पति से तलाक लेकर वापस थाईलैंड आ गईं और तब से खुद को समाजसेवा के कामों में लगा दिया. उनकी एक संस्था "टू बी नंबर वन" युवाओं को ड्रग्स से दूर करने का काम करती है. इसके अलावा उन्होंने थाईलैंड में पर्यटन और थाई फिल्मों को अंतरराष्ट्रीय मंचों पर बढ़ावा देने की दिशा में भी काफी काम किया है.

पुस्तक प्रकाशित करें
25
रचनाएँ
दैनिक प्रतियोगिता दिसम्बर 2022
0.0
इस पुस्तक में शब्द इन के द्वारा दिये गये दैनिक विषयों पर कहानी , कविता और लेख के माध्यम से मेरे व्यक्तिगत विचार प्रस्तुत होते हैं।
1

भाई-भतीजावाद

1 दिसम्बर 2022

1
0
1

भाई-भतीजावाद

1 दिसम्बर 2022
1
0
2

प्रदूषण मुक्त बनाए भारत

2 दिसम्बर 2022

0
0
2

प्रदूषण मुक्त बनाए भारत

2 दिसम्बर 2022
0
0
3

पाश्चात्य संस्कृति अभिशाप या वरदान

3 दिसम्बर 2022

0
0
3

पाश्चात्य संस्कृति अभिशाप या वरदान

3 दिसम्बर 2022
0
0
4

बेरोजगारी

4 दिसम्बर 2022

0
0
4

बेरोजगारी

4 दिसम्बर 2022
0
0
5

भारत का युवा

5 दिसम्बर 2022

0
0
5

भारत का युवा

5 दिसम्बर 2022
0
0
6

युवाओं में बढ़ रहा तनाव

6 दिसम्बर 2022

0
0
6

युवाओं में बढ़ रहा तनाव

6 दिसम्बर 2022
0
0
7

प्रौद्योगिकी और इसके प्रभाव

7 दिसम्बर 2022

0
0
7

प्रौद्योगिकी और इसके प्रभाव

7 दिसम्बर 2022
0
0
8

एक राष्ट्र में अर्थव्यवस्था का महत्व

9 दिसम्बर 2022

0
0
8

एक राष्ट्र में अर्थव्यवस्था का महत्व

9 दिसम्बर 2022
0
0
9

चुनाव:- अपने नेता को चुनाव करने का एक तरीका

11 दिसम्बर 2022

0
0
9

चुनाव:- अपने नेता को चुनाव करने का एक तरीका

11 दिसम्बर 2022
0
0
10

सार्वभौमिक स्वास्थ्य कवरेज दिवस

12 दिसम्बर 2022

0
0
10

सार्वभौमिक स्वास्थ्य कवरेज दिवस

12 दिसम्बर 2022
0
0
11

आज की दुनिया में ट्विटर की दुनिया

15 दिसम्बर 2022

0
0
11

आज की दुनिया में ट्विटर की दुनिया

15 दिसम्बर 2022
0
0
12

थाईलैंड की राजकुमारी

16 दिसम्बर 2022

0
0
12

थाईलैंड की राजकुमारी

16 दिसम्बर 2022
0
0
13

थाईलैंड की राजकुमारी

16 दिसम्बर 2022

0
0
13

थाईलैंड की राजकुमारी

16 दिसम्बर 2022
0
0
14

थाईलैंड की राजकुमारी

16 दिसम्बर 2022

0
0
14

थाईलैंड की राजकुमारी

16 दिसम्बर 2022
0
0
15

भारत में चीनी घुसपैठ

17 दिसम्बर 2022

0
0
15

भारत में चीनी घुसपैठ

17 दिसम्बर 2022
0
0
16

महाराष्ट्र में लोकायुक्त कानून

19 दिसम्बर 2022

0
0
16

महाराष्ट्र में लोकायुक्त कानून

19 दिसम्बर 2022
0
0
17

संस्कृति का महत्व

20 दिसम्बर 2022

1
0
17

संस्कृति का महत्व

20 दिसम्बर 2022
1
0
18

ऑमिक्रान वेरिएंट

22 दिसम्बर 2022

0
0
18

ऑमिक्रान वेरिएंट

22 दिसम्बर 2022
0
0
19

भारत जोडो यात्रा

25 दिसम्बर 2022

0
0
19

भारत जोडो यात्रा

25 दिसम्बर 2022
0
0
20

चाइना में बढ़ते हुए कोरोना केस

27 दिसम्बर 2022

0
0
20

चाइना में बढ़ते हुए कोरोना केस

27 दिसम्बर 2022
0
0
21

भारतीय इतिहास का पुनर्निर्माण

27 दिसम्बर 2022

0
0
21

भारतीय इतिहास का पुनर्निर्माण

27 दिसम्बर 2022
0
0
22

बढ़ते आतंकवाद का विश्लेषण

28 दिसम्बर 2022

0
0
22

बढ़ते आतंकवाद का विश्लेषण

28 दिसम्बर 2022
0
0
23

बढ़ते आतंकवाद का विश्लेषण

28 दिसम्बर 2022

0
0
23

बढ़ते आतंकवाद का विश्लेषण

28 दिसम्बर 2022
0
0
24

सविनय अवज्ञा

30 दिसम्बर 2022

1
0
24

सविनय अवज्ञा

30 दिसम्बर 2022
1
0
25

भारत का लोकतांत्रिक संविधान

31 दिसम्बर 2022

0
0
25

भारत का लोकतांत्रिक संविधान

31 दिसम्बर 2022
0
0
---