shabd-logo

मुझे तो हर घड़ी हर पल बहारों ने सताया है।

18 अक्टूबर 2021

593 बार देखा गया 593
बताऊँ क्या मुझे ऐसे सहारों ने सताया है,
नदी तो कुछ नहीं बोली किनारों ने सताया है
सदा ही शूल मेरी राह से खुद हट गये लेकिन,
मुझे तो हर घड़ी हर पल बहारों ने सताया है।

कुमार विश्वास की अन्य किताबें

brajmohan panday

brajmohan panday

कमाल की बातें,,, बहारों न सताया है,,,, सताये गर कोई फिर भी, नजर अंदाज कर जाना, मगर अपने सताये, जो, तो आंसू भर के मुस्काना.. उन्हें हमको सताने मे अगर मुस्कान आता है, तो उनको दूर मत करना, उन्हीं के पास आ जाना.

19 अक्टूबर 2021

23
रचनाएँ
बेस्ट ऑफ़ कुमार विश्वास
5.0
हिंदी साहित्य के प्रसिद्ध कवि और लेखक कुमार विश्वास के सभी लोकप्रिय कविताएं और लेखों का यहां आपको संग्रह मिलेगा.
1

हंगामा- कुमार विश्वास

14 अक्टूबर 2021
75
13
8

<p>भ्रमर कोई कुमुदनी पर मचल बैठा तो हंगामा। </p> <p>हमारे दिल में कोई ख़्वाब पल बैठा तो हंगामा।

2

कोई दीवाना कहता है - कुमार विश्वास

14 अक्टूबर 2021
49
9
6

<p>कोई दीवाना कहता है, कोई पागल समझता है !</p> <p>मगर धरती की बेचैनी को बस बादल समझता है !!</p> <p>म

3

उस पगली लड़की के बिन

14 अक्टूबर 2021
32
6
1

<span style="color: rgb(51, 51, 51); font-family: &quot;Helvetica Neue&quot;, Helvetica, Arial, sans

4

होंठों पर गंगा हो हाथों में तिरँगा हो

14 अक्टूबर 2021
24
7
4

<span style="color: rgb(51, 51, 51); font-family: &quot;Helvetica Neue&quot;, Helvetica, Arial, sans

5

कितने एकाकी हैं प्यार कर तुम्हें

14 अक्टूबर 2021
25
5
1

<span style="color: rgb(51, 51, 51); font-family: &quot;Helvetica Neue&quot;, Helvetica, Arial, sans

6

मैं तुम्हें ढूंढने स्वर्ग के द्वार तक

14 अक्टूबर 2021
23
7
1

<span style="color: rgb(51, 51, 51); font-family: &quot;Helvetica Neue&quot;, Helvetica, Arial, sans

7

कभी तुम सुन नहीं पायी, कभी मैं कह नहीं पाया

14 अक्टूबर 2021
27
4
2

<span style="color: rgb(51, 51, 51); font-family: &quot;Helvetica Neue&quot;, Helvetica, Arial, sans

8

मेरे लफ्जे में मरते थे वो कहते है कि अब मत बोलो

18 अक्टूबर 2021
20
6
0

<span style="color: rgb(0, 0, 0); font-family: &quot;Noto Sans Devanagari&quot;, Arial, Helvetica, s

9

स्वयं से दूर हो तुम भी स्वयं से दूर हैं हम भी

18 अक्टूबर 2021
15
5
0

<span style="color: rgb(0, 0, 0); font-family: &quot;Noto Sans Devanagari&quot;, Arial, Helvetica, s

10

क्या समर्पित करूँ

18 अक्टूबर 2021
20
3
0

<div style="color: rgb(0, 0, 0); font-family: Tauri, sans-serif;">बाँध दूँ चाँद, आँचल के इक छोर में<

11

मांग की सिंदूर रेखा

18 अक्टूबर 2021
12
2
0

<div style="color: rgb(0, 0, 0); font-family: Tauri, sans-serif;">मांग की सिंदूर रेखा, तुमसे ये पूछे

12

मधुयामिनी

18 अक्टूबर 2021
12
1
0

<div style="color: rgb(0, 0, 0); font-family: Tauri, sans-serif;">क्या अजब रात थी, क्या गज़ब रात थी<

13

ये वही पुरानी राहें हैं, ये दिन भी वही पुराने हैं

18 अक्टूबर 2021
15
1
0

<div style="color: rgb(0, 0, 0); font-family: Tauri, sans-serif;">चेहरे पर चँचल लट उलझी, आँखों में स

14

लड़कियाँ जैसे पहला प्यार.....

18 अक्टूबर 2021
12
1
0

<div style="color: rgb(0, 0, 0); font-family: Tauri, sans-serif;">पल भर में जीवन महकायें</div><div s

15

होली

18 अक्टूबर 2021
9
1
0

<div style="color: rgb(0, 0, 0); font-family: Tauri, sans-serif;">आज होलिका के अवसर पर जागे भाग गुला

16

ओ मेरे पहले प्यार

18 अक्टूबर 2021
12
0
0

<div style="color: rgb(0, 0, 0); font-family: Tauri, sans-serif;">ओ प्रीत भरे संगीत भरे!</div><div s

17

इतनी रंग बिरंगी दुनिया

18 अक्टूबर 2021
11
0
0

<div>इतनी रंग बिरंगी दुनिया, दो आँखों में कैसे आये,</div><div>हमसे पूछो इतने अनुभव, एक कंठ से कैसे ग

18

मद्यँतिका

18 अक्टूबर 2021
7
0
0

<div style="color: rgb(0, 0, 0); font-family: Tauri, sans-serif;">माँ को देखा कि वो बेबस-सी परेशान स

19

रंग दुनिया ने दिखाया

18 अक्टूबर 2021
9
0
0

<div style="color: rgb(0, 0, 0); font-family: Tauri, sans-serif;">रंग दुनिया ने दिखाया है निराला देख

20

तुम्हारी याद का क्या है उसे तो रोज़ आना है

18 अक्टूबर 2021
20
3
1

<div style="color: rgb(0, 0, 0); font-family: Tauri, sans-serif;">जहाँ हर दिन सिसकना है जहाँ हर रात

21

फ़क़त उस आदमी से ये ज़माना कम नहीं होता।

18 अक्टूबर 2021
16
4
0

<div style="color: rgb(0, 0, 0); font-family: Tauri, sans-serif;">सदा तो धूप के हाथों में ही परचम नह

22

मुझे तो हर घड़ी हर पल बहारों ने सताया है।

18 अक्टूबर 2021
18
3
1

<div style="color: rgb(0, 0, 0); font-family: Tauri, sans-serif;">बताऊँ क्या मुझे ऐसे सहारों ने सताय

23

अख़बार बना कर क्या पाया?

18 अक्टूबर 2021
33
7
2

<div class="separator amp-wp-95ecdb5" data-amp-original-style="clear:both;text-align:center;" style=

---

किताब पढ़िए

लेख पढ़िए