shabd-logo

भारत की पहचान

23 सितम्बर 2023

3 बार देखा गया 3

आधार  छंद  प्रदीप  गीतिका 

मात्रा  भार  १६+१३ =२९  

चाल ==चौपाई +दोहा का   विषम  चरण ]

शीर्षक ==भारत  की पहचान  

धर्म  सनातन  ज्ञान  पुरातन ,भारत  की पहचान  हैं  l

चार वेद की   गौरव  गाथा , बोध  शोध   विज्ञान    हैं ll

व्यास  सृजन   पुराण  अठ्ठारह  ,लेखन गणपति  देव की l

रामचरित  मानस   कृत  तुलसी ,राम    नाम  वरदान  हैं ll

अगणित   धर्म  शास्त्र   की   धरणी, आलौकिक   आधार  से l

 रामायण  का  सृजन  मनोहर , लवकुश  वीर  महान     हैं  ll

धर्म सनातन के   रखवाले ,      योद्धा   भारत  भूमि    के l

जन्में   देव  सदा   भारत  में ,  महिमा   सतत  प्रधान    हैं  ll

अकथनीय  गौरव  गाथा  है  , काशी   मथुरा    धाम  की  l

तीर्थ प्रयाग  अवध  की  धरती  ,जन्में राम   भगवान   हैं   ll

राजकिशोर  मिश्र   राज   प्रतापगढ़ी

Rajkishor Mishra की अन्य किताबें

1

प्रदीप छन्द (चौपाई +दोहा का विषम चरण) 16+13=29 मात्रा

21 अगस्त 2023
1
2
2

माँ भारती के सभी वीर सपूत,  स्वतंत्रता  संग्राम सेनानियों को शत- शत  अभिनन्दन    वंदन   77वें स्वतंत्रता दिवस की  आप   सभी  मित्रों  को ह्रदय   से हार्दिक बधाई एवं अनंत शेष शुभकामनाएं ==========

2

छ्न्द गेयता अलंकार रस

21 अगस्त 2023
1
2
1

वैदिक लौकिक छ्न्द लिखूँ मै ,वर्षा ग्रीष्म वसंत लिखूँ मै पिंगल छ्न्द विधान महा मै ,छ्न्द शेष  अवतार लिखूँ मै शत   में   जोड़  आठ   उपनिषद्    , वेद   और  वेदांग   लिखूँ मै शिक्षा   कल्प   निरूक्त  व

3

हे शिव शंकर नमः शिवाय ,

21 अगस्त 2023
0
0
0

श्रावण   मास    के   चतुर्थ   सोमवार     पर  अनंगशेखर  चंद्रशेखर  दयानिधान    भक्त वत्सल सतीपति   सोमनाथ   महाकाल   भीमाशंकर  त्रिपुरारि शिवशंभु शशिधर को   नमन -----    ==============================

4

आधार छन्द – गीतिका

21 अगस्त 2023
0
0
0

आधार छन्द – गीतिका  मापनी – 2122 2122 2122 212  समांत – आज , पदांत लिखना आ गया   २६ मात्रिक  सरल  मापनी   2122  2122  2122 212 ====================================== गीत माला गीतिका बन आज लिख

5

कवित्त बाल प्रसंग

21 अगस्त 2023
1
0
0

कवित्त बाल प्रसंग बाल हनुमान रूप धरि कुहू आयो हैं l मातु पिता दादा दादी देखि हरसायो हैं ll तोतली ये बोल बीच गदा हाथ भायों हैं l मधुर अहसास भरि धूम यूँ मचायो हैं ll बाल मुस्कान लखि अंजना के लाल आज

6

भारत की पहचान

23 सितम्बर 2023
0
0
0

आधार  छंद  प्रदीप  गीतिका  मात्रा  भार  १६+१३ =२९   चाल ==चौपाई +दोहा का   विषम  चरण ] शीर्षक ==भारत  की पहचान   धर्म  सनातन  ज्ञान  पुरातन ,भारत  की पहचान  हैं  l चार वेद की   गौरव  गाथा , बोध  

7

दिनकर

23 सितम्बर 2023
1
0
0

द्विगुणित  चौपाई  चतुष्पदी   मुक्तक  दिनकर   का  परिचय  अति सुन्दर , भाव प्रवण  रचना  अलबेली l द्वन्द गीत  कुरुक्षेत्र  सु  दिल्ली , नीलकुसुम कवि श्री    अलबेली  l घूप छाँह    रसवंती    वापू ,     

8

काशी काबा

23 सितम्बर 2023
1
1
1

माँ के चरणों में तीरथ बसे हैं  ============================= माँ के चरणों में तीरथ बसे हैं , मन को मंदिर   बना कर   देखो । काशी काबा ये मथुरा यही है , मन में माँ को बिठा कर देखो । दर भटकने स

---

किताब पढ़िए

लेख पढ़िए