shabd-logo

लिपिका भट्टी के बारे में

मैं लिपिका भट्टी, भारत की राजधानी दिल्ली की निवासी हूँ। पढ़ने और लिखने का शौक मुझे बचपन से ही रहा है। बाल अवस्था में मुंशी प्रेमचंद्र और रवींद्र नाथ टैगोर जी की कहानियों व हरिवंशराय बच्चन जी की कविताओं से मुझे शब्दों को भावों में पिरोने की प्रेरणा मिली। मेरे साहित्य जगत की शुरुआत छठी कक्षा में कविता लेखन से हुई। मेरी कई कविताएं कॉलेज की मैग्जीन में भी प्रकाशित हुई हैं। 'कलम अस्तित्व' जैसे प्रसिद्ध अखबार में भी मेरे कई लेख प्रकाशित हुए हैं। काव्य संकलन "बदलता भारतीय समाज" एवं "भारतीय नृत्य" में भी मेरी रचनाएँ प्रकाशित हुई है। शब्दइन, प्रतिलिपि, स्टोरीमिरर,अमरउजाला काव्य जैसे कई मंचो पर भी मेरी अनेको कविताएं, लेख व कहानियां प्रकाशित व सराही जा रही हैं। आज मैं एक लेखिका होने के साथ विज्ञान एवं वैदिक मैथ्स की शिक्षिका भी हूं। बच्चो को पढ़ना व उनको जीवन में निरंतर आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करना मेरे जीवन का प्रमुख उद्देश है। विज्ञान की शिक्षिका होने के बावजूद भी हिंदी भाषा और साहित्य से मेरा विशेष लगाव है। आज कई मंचो पर मै अपने शब्दों के ज़रिये सब के मन को छूने व अपने मन के भावो को जनसाधारण तक पहुँचने का निरंतर प्रयास कर रही हूँ। माँ सरस्वती के आशीर्वाद से ये खूबसूरत सफर जारी है, सभी के मन में अपना एक ख़ास स्थान बना सकूँ और सभी के मन को अपने शब्दों के भावो से छू पाऊं, ऐसी कामना है।

पुरस्कार और सम्मान

prize-icon
दैनिक लेखन प्रतियोगिता2023-05-12
prize-icon
दैनिक लेखन प्रतियोगिता2023-03-26
prize-icon
दैनिक लेखन प्रतियोगिता2023-02-12
prize-icon
दैनिक लेखन प्रतियोगिता2023-01-19
prize-icon
दैनिक लेखन प्रतियोगिता2023-01-06
prize-icon
दैनिक लेखन प्रतियोगिता2022-11-28

लिपिका भट्टी की पुस्तकें

आलेख

आलेख

यह किताब दैनिक विषयों की समालोचनात्मक समीक्षा का संग्रह है। इस किताब में आप विभिन्न विषयों पर सुंदर आलेख पढ़ सकते हैं।

94 पाठक
24 रचनाएँ

निःशुल्क

आलेख

आलेख

यह किताब दैनिक विषयों की समालोचनात्मक समीक्षा का संग्रह है। इस किताब में आप विभिन्न विषयों पर सुंदर आलेख पढ़ सकते हैं।

94 पाठक
24 रचनाएँ

निःशुल्क

शब्दों की डोर

शब्दों की डोर

इस किताब में जीवन के विभिन्न विषयों को बहुत खूबसूरती से शब्दों की डोर में पिरो कर खूबसूरत कविताओं का रूप दिया गया है।

67 पाठक
30 रचनाएँ
14 लोगों ने खरीदा

ईबुक:

₹ 58/-

प्रिंट बुक:

168/-

शब्दों की डोर

शब्दों की डोर

इस किताब में जीवन के विभिन्न विषयों को बहुत खूबसूरती से शब्दों की डोर में पिरो कर खूबसूरत कविताओं का रूप दिया गया है।

67 पाठक
30 रचनाएँ
14 लोगों ने खरीदा

ईबुक:

₹ 58/-

प्रिंट बुक:

168/-

कुछ खास एहसास

कुछ खास एहसास

मन के कुछ एहसास हैं , जो बहुत ही खास हैं । मोती पिरोए अक्षरों के मैंने , जो मेरे दिल के पास हैं । भावनाओ के सागर में बहते , आप भी मेरे साथ हैं । खो जाते इन लहरों में आपके भी जज़बाद हैं ।

60 पाठक
20 रचनाएँ
16 लोगों ने खरीदा

ईबुक:

₹ 40/-

प्रिंट बुक:

132/-

कुछ खास एहसास

कुछ खास एहसास

मन के कुछ एहसास हैं , जो बहुत ही खास हैं । मोती पिरोए अक्षरों के मैंने , जो मेरे दिल के पास हैं । भावनाओ के सागर में बहते , आप भी मेरे साथ हैं । खो जाते इन लहरों में आपके भी जज़बाद हैं ।

60 पाठक
20 रचनाएँ
16 लोगों ने खरीदा

ईबुक:

₹ 40/-

प्रिंट बुक:

132/-

रह गुजार ए दिल

रह गुजार ए दिल

प्रेम पर आधारित।

44 पाठक
27 रचनाएँ
1 लोगों ने खरीदा

ईबुक:

₹ 66/-

रह गुजार ए दिल

रह गुजार ए दिल

प्रेम पर आधारित।

44 पाठक
27 रचनाएँ
1 लोगों ने खरीदा

ईबुक:

₹ 66/-

खयालों की पाँख

खयालों की पाँख

विविध विषयों पर कविता संग्रह।

19 पाठक
16 रचनाएँ
2 लोगों ने खरीदा

ईबुक:

₹ 40/-

खयालों की पाँख

खयालों की पाँख

विविध विषयों पर कविता संग्रह।

19 पाठक
16 रचनाएँ
2 लोगों ने खरीदा

ईबुक:

₹ 40/-

फुलझड़ी

फुलझड़ी

नन्हे-मुन्ने छोटे छोटे बच्चों के लिए, नन्ही नन्ही छोटी कविताओं का रंग बिरंगा संग्रह।

9 पाठक
5 रचनाएँ
1 लोगों ने खरीदा

ईबुक:

₹ 20/-

फुलझड़ी

फुलझड़ी

नन्हे-मुन्ने छोटे छोटे बच्चों के लिए, नन्ही नन्ही छोटी कविताओं का रंग बिरंगा संग्रह।

9 पाठक
5 रचनाएँ
1 लोगों ने खरीदा

ईबुक:

₹ 20/-

शेरो शायरी

शेरो शायरी

शेरो शायरी की किताब।

6 पाठक
4 रचनाएँ

निःशुल्क

शेरो शायरी

शेरो शायरी

शेरो शायरी की किताब।

6 पाठक
4 रचनाएँ

निःशुल्क

दर्दे दिल की दास्तां

दर्दे दिल की दास्तां

गम तो और भी दुनिया में हैं बाकी, लेकिन टूटे हुए दिल की आवाज दूर तलक जाती है। दुआ ही निकलती है फिर भी टूटे हुए दिल से, जो हर हाल में अपने प्यार की सलामती चाहती है।

3 पाठक
2 रचनाएँ
1 लोगों ने खरीदा

ईबुक:

₹ 66/-

दर्दे दिल की दास्तां

दर्दे दिल की दास्तां

गम तो और भी दुनिया में हैं बाकी, लेकिन टूटे हुए दिल की आवाज दूर तलक जाती है। दुआ ही निकलती है फिर भी टूटे हुए दिल से, जो हर हाल में अपने प्यार की सलामती चाहती है।

3 पाठक
2 रचनाएँ
1 लोगों ने खरीदा

ईबुक:

₹ 66/-

जीवन सरल बनाने के सहज उपाय

जीवन सरल बनाने के सहज उपाय

अक्सर हमें अपने जीवन में कई प्रकार की परेशानियों का सामना करना पड़ता है। जिनके समाधान हेतु हमारे धार्मिक ग्रंथों में कई प्रकार की विशेष जानकारियां दी गई है। इस किताब में हमारी धार्मिक मान्यताओं के अनुसार कुछ बेहद आसान प्रयोग कर आप भी अपने जीवन की सा

1 पाठक
7 रचनाएँ
2 लोगों ने खरीदा

ईबुक:

₹ 20/-

जीवन सरल बनाने के सहज उपाय

जीवन सरल बनाने के सहज उपाय

अक्सर हमें अपने जीवन में कई प्रकार की परेशानियों का सामना करना पड़ता है। जिनके समाधान हेतु हमारे धार्मिक ग्रंथों में कई प्रकार की विशेष जानकारियां दी गई है। इस किताब में हमारी धार्मिक मान्यताओं के अनुसार कुछ बेहद आसान प्रयोग कर आप भी अपने जीवन की सा

1 पाठक
7 रचनाएँ
2 लोगों ने खरीदा

ईबुक:

₹ 20/-

लिपिका भट्टी के लेख

मेरी पहचान

25 सितम्बर 2023
1
0

कौन हूं मैं, क्यों हूं मैं खुद से अनजान,क्या है अस्तित्व मेरा,क्या है आखिर मेरी पहचान..जीते तो सभी हैं,पर व्यर्थ जीने में क्या है शान,जियो तो करो कुछ ऐसा,हो तुमसे तुम्हारी पहचान...दृण हो हिमालय से इरा

चलो मिलकर

19 मई 2023
1
0

चलो मिलकर हम कदम बढ़ाए,चलो मिलकर हम वतन सजाएं,चलो भारत को प्यारे अपने हम,मिलकर सुखी, समृद्ध बनाएं…चलो मिलकर हम बढ़ते जाएं,चलो मिलकर हम एक हो जाएं,चलो ले ध्वजा अपनी हम,हिमालय के शिखर पर लहराए….चलो भेदभ

आईपीएल से जुड़े विवाद

17 मई 2023
1
0

आईपीएल और आईपीएल से जुड़े विवाद, कहां तक है यह सत्य जनाब, मैच फिक्सिंग की धांधलेबाजियां, लूट ले गए वह सारे खिताब.. धूल में मिले जो बैठे थे बन हमारे सरो ताज, उठे जब सबके चेहरों से नकाब, खुल गए सारे ढके

तू मुझ में है

12 मई 2023
1
0

मैं था जिद्दी चट्टान सा ,तू मुझे सरकाती चली गई,अहं को त्यागा मैंने ,तू अपने प्रेम में मुझे बहाती चली गई…छोड़कर अस्तित्व अपना,बस मैं हो गया तेरा,खो गया मैं तुझमेंऔर तू मुझे अपना,बनाती चली गई…मगरूर था म

अर्ज किया है 4

16 अप्रैल 2023
2
0

🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹जिस खयाल में तुम हो,उस ख्याल से भी मोहब्बत है हमें..जिसका जवाब तुम हो,उस सवाल की चाहत है हमें..🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹

अर्ज किया है 3

16 अप्रैल 2023
1
0

🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹वो हमसे पूछते हैं , कि आखिर हम हैं कौन...और हम ना जाने कब से उन से गुफ्तगू करते रहे ...🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹

अर्ज किया है 2

16 अप्रैल 2023
1
0

🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹मोहब्बत का मेरी तुमसे ख्याल सच्चा है,पर यह ख्याल, बस ख्याल ही रहे,अभी तलक अच्छा है!!🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹

अर्ज किया है 1

16 अप्रैल 2023
1
0

💕💕💕💕💕💕💕💕💕💕💕💕💕💕💕जो जुदा होने का इरादा है तो मुझ से भी मशवरा कर लो मोहब्बत में अकेले तुम ही तो नहीं शामिल नहीं होना? 💕💕💕💕💕💕💕💕💕💕💕💕💕💕💕

मोहब्बत में

9 अप्रैल 2023
1
0

मोहब्बत में सुनो जी हमारी कोई वादा ना होगा, यहां तौमतें लगाने का कोई इरादा ना होगा, प्यार तुमसे हमारा हमेशा पाकीज़ा ही रहेगा, इस रिश्ते में कोई किसी का पियादा ना होगा,,, चाहतें हमारी हमेशा बेदाग ही रह

आईपीएल से जुड़े विवाद

1 अप्रैल 2023
3
0

आईपीएल और आईपीएल से जुड़े विवाद,कहां तक है यह सत्य जनाब,मैच फिक्सिंग की धांधलेबाजियां,लूट ले गए वह सारे खिताब..धूल में मिले जो बैठे थे बन हमारे सरो ताज,उठे जब सबके चेहरों से नकाब,खुल गए सारे ढके हुए र

किताब पढ़िए

लेख पढ़िए