shabd-logo

तलाश – ए – सुकून🖤कुछ पंक्तियां....

15 अप्रैल 2023

16 बार देखा गया 16
खामोशियां.............................🖤

ना जाने क्यों ए सुकून मुझे तेरी तलाश है,
माना करोड़ पल है इस जिंदगी से सुकून के,
पर तेरे साथ बीताया जो
एक–एक पल उन करोड़ों से खास है,
जो भी मिला वो हम से खफा मिला 
ज़ीना हराम कर रखा है, 
मेरी इन आँखों ने
खुली हो तो तलाश तेरी,
बंद हो तो भी ख्वाब तेरे.
ये कैसी कश्मकश है 
सुकून की तलाश में,
ना जाने कहां खो गए,
शुरू तो कर दी तलाश सुकून की,
अब तू मिले तो मैं भी मिलु....!❤️
सुकून के कुछ पल अपने साथ हूं 
मेरी जिंदगी में तेरी मौजूदगी हर पल हो
मुश्किलों में मेरा हाथ थामे रखे
जो मेरा हो कर भी मेरा ना हो सके 
जो मुझसे जुदा हो कर भी 
मुझसे जुदा ना हो सके
हर पल जो मेरा साया बनकर मेरे साथ हो
क्या कभी ऐसा साथी मिलेगा ग्रेसी को..?
जो उसका हमेशा साथ दे हर कदम पे...
तो देखते हैं हमारी ग्रेसी की तलाश
कब और कहां खत्म होती..?

🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹
मुझे है तलाश तेरी,
मुझे तेरी ही है आस 
मुझ को है सिर्फ तेरी तमन्ना,
मेरी हर तलाश तुझ पर ही 
आ कर ख़त्म होती है।
🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹

तलाश – ए – सुकून🖤
स्टोरी की कुछ पंक्तियां........❤️


क्रमशा : जारी है...............✍🏻

🖤..jai mahakal..🖤
6
रचनाएँ
तलाश–ए–सुकुन
0.0
इक तलाश सुकुन की...
1

तलाश – ए – सुकून🖤कुछ पंक्तियां....

15 अप्रैल 2023
3
1
0

खामोशियां.............................🖤ना जाने क्यों ए सुकून मुझे तेरी तलाश है,माना करोड़ पल है इस जिंदगी से सुकून के,पर तेरे साथ बीताया जोएक–एक पल उन करोड़ों से खास है,जो भी मिला वो हम से खफा मिला&n

2

तलाश – ए – सुकून 🖤 पार्ट–1

18 अप्रैल 2023
1
1
0

================================नोट :: इस कहानी का किसी भी व्यक्ति या स्थान से कोई संबंध नहीं है|||||इस कहानी को किसी भी व्यक्ति या स्थान से ना जोड़े..........ये कहानी पूरी तरह से काल्पनिक है.........

3

तलाश – ए – सुकून 🖤 पार्ट–2

18 अप्रैल 2023
0
1
0

_____________________________________________________________▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️आज फिर ग्रेसी बिना किसी से कुछ बोले चुप चाप अपने कॉलेज को निकल जाती हैं।अब आगे.....................इस भाग दौड़ की जिंदगी में

4

तलाश – ए – सुकून 🖤 पार्ट–3

18 अप्रैल 2023
0
1
0

_________________________________________________________◽◽◽◽◽◽◽◽◽ग्रेसी और प्रीति ने अपनी क्लास अटेंड की और दोनो कॉलेज से निकल गई.....अब आगे................प्रीति : चल ना यार रामदीन काका के दुकान के

5

तलाश – ए – सुकून 🖤 पार्ट–4

18 अप्रैल 2023
0
1
0

_______________________________________________________◽◽◽◽◽◽◽◽◽◽प्रीती मन में सोचते हुए क्या है..? महादेव कुछ लोगो की जिंदगी में इतनी खुशियां भर देते हैं आप की वो उन खुशियों को संभाल भी नहीं पाते हैं

6

तलाश – ए – सुकून 🖤 पार्ट–5

18 अप्रैल 2023
0
1
0

______________________________________________________________✴️✴️✴️✴️✴️✴️<div><br></div><div>ग्रेसी किचन का काम निपटा कर वो भी अपने रूम में आती हैं।</div><div>फिर प्रीति को कॉल लगाती है.......</div><

---

किताब पढ़िए

लेख पढ़िए