shabd-logo

टाइम ट्रेवल

7 सितम्बर 2022

56 बार देखा गया 56
समय बहुत बलवान है। समय वह चीज है,जिसे इंसान हमेशा से ही अपने अनुसार चलाना चाहता है, किंतु समय पर किसी की नहीं चलती अपितु समय सबको अपने अनुसार चलाता रहता है।

अगर किसी प्रकार हम समय को अपने अनुसार चला सके तो कितना रोमांचक होगा। समय यात्रा कर हम अपना भविष्यफल या भूतकाल ,सब कुछ पलक झपकते ही जान सकते हैं।

जी हां! मैं उसी समय यात्रा की बात कर रही हूं जिसके ऊपर ना जाने आप सब ने कितनी ही फिल्म देखी होंगी और ना जाने कितने ही लेख पढ़े होंगे।

अल्बर्ट आइंस्टाइन ने अपनी " थ्योरी ऑफ रिलेटिविटी" में टाइम ट्रेवल की बात करी थी। उसी बात को सिद्धांत मानते हुए वैज्ञानिकों ने ना जाने कितनी ही खोज करी और आज भी टाइम ट्रैवल करने के लिए कई अविष्कार किए जा रहे हैं। 

वह दिन दूर नहीं जिस दिन हम किसी कैप्सूल जैस मशीन में बैठकर अपने वर्तमान व भविष्य की यात्रा का सुखद अनुभव प्राप्त कर सकेंगे।

यह माना जाता है, कि अगर इंसान रोशनी की गति से ट्रेवल कर सके तो वह समय को पीछे छोड़ सकता है। किंतु वर्तमान समय में ऐसी मशीन अभी तक नहीं बनी जो इंसान के शरीर को इस गति से ट्रैवल करने में सक्षम हो।

मैं सोचती हूं ,अगर मुझे टाइम ट्रेवल करने का मौका मिला तो मैं निसंदेह अपने बचपन में लौट जाना चाहूंगी। वो मस्ती के दिन सहेलियां ,माता पिता का प्यार ,भाई की फटकार , दादी मां का सर में मन भर तेल थोप कर दो करेले जैसी मुड़ी हुई चोटिया बनाना और नीचे लाल रिबन के बड़े-बड़े फूल बनाना;  हां जी, जो कि मुझे उस समय तो बहुत अखरता था, वही यादें आज मेरे मन को भाती हैं । और मैं दौड़ के अपनी दादी मां की गोद में बैठकर ढेर सारी कहानियां सुनना चाहती हूं। अपनी मां के हाथ की बनी रोटियां खानी चाहती हूं और उन्हीं गलियों में मस्त पतंग सी सरपट उड़ना भी चाहती हूं।

काश! किसी तरह यह टाइम ट्रेवल संभव हो जाए और हम सभी अपने अपने सपनों की दुनिया में पहुंच सके। कितना अच्छा होगा ना?

मेरे छोटे बेटे का तो बस एक ही सपना है, अगर उसे टाइम ट्रैवल करने का मौका मिलेगा, तो वह बड़ा होकर अपने पापा जैसे खूब घूमने जाया करेगा और बहुत सारी चॉकलेट्स खरीदेगा, रात दिन वीडियो गेम खेलेगा, खूब मस्ती करेगा ।और उसे लगता है यह आजादी उसे टाइम ट्रैवल करके बड़े हो जाने पर ही मिल सकती है ,क्योंकि अभी तो उसकी मां उसे हिटलर प्रतीत होती है।

सोचने पर ही कितना सुंदर लगता है "टाइम ट्रेवल".  समय को मुट्ठी में कर लिया तो समझो, दुनिया मुट्ठी में कर ली। ना तो बच्चों को स्कूल में देरी से जाने की टेंशन, ना ही ऑफिस में देर से पहुंचने पर बॉस की डांट खाने की टेंशन। और कोई काम बिगड़ जाए तो भूतकाल में जाकर उसे सुधार लेने का अवसर। वाह! क्या बात होगी। जीवन सफल हो जाएगा।

मुझे तो लगता है समय पर उपलब्धि मतलब ब्रह्मांड पर विजय पा लेने के बराबर होगा। तब तो उन सारी बातों और कहावतें के मायने ही बदल जाएंगे,  जो हम बचपन से पढ़ते आ रहे हैं। और जब भी बच्चों को समय व्यर्थ करते देखते हैं ,तो खरी खोटी सुनाने के लिए उन्हीं का प्रयोगकर दिया करते हैं, जैसे कि

       "कल करे सो आज कर ,
        आज करे सो अब ,
         पल में प्रलय होएगी ,
         बहुरि करोगे कब।

कभी- कभो सोचती हूं, हर चीज के कुछ अच्छे पहलू व बुरे पहलू दोनों ही होते हैं। जैसे कि टाइम ट्रेवल कर यूं तो हम अपनी कई मुश्किलों का समाधान कर सकते हैं।

दूसरी तरफ अपने बच्चों को समय की अहमियत समझाना तो बहुत ही कठिन हो जाएगा, क्योंकि टाइम ट्रैवल के साथ समय की तो कोई अहमियत ही ना रहेगी। वह तो बस एक बिंदु से दूसरे बिंदु के बीच की एक क्षणिक भर की दूरी रह जाएगी, जो पलक झपकते ही तय कर ली जा सकेगी।

खैर! आधुनिक युग की तेज रफ्तार देखते हुए मैं यह अडिग विश्वास से कह सकती हूं, कि वह दिन दूर नहीं है, जब आप और मैं टाइम ट्रेवल का लुफ्त उठा जिंदगी के हर अच्छे क्षण को दोबारा या शायद कई बार जी सकेंगे।






मीनू द्विवेदी वैदेही

मीनू द्विवेदी वैदेही

मैंने आपकी पुस्तक शब्दों की डोर खरीदी बहुत ही सुन्दर तरीके से लिखा आपने 👌🙏

12 अगस्त 2023

लिपिका भट्टी

लिपिका भट्टी

25 सितम्बर 2023

ब बहुत-बहुत धन्यवाद आपकाहुत-बहुत धन्यवाद आपका

Pranet

Pranet

Bahut hi Sundar lekh prabhavi lekh

9 दिसम्बर 2022

RACHIT JAIN 215277

RACHIT JAIN 215277

Very nice and motivating 👏 👌

7 सितम्बर 2022

Lipika Bhatti

Lipika Bhatti

8 सितम्बर 2022

Thank you 😊

Shahe Khan

Shahe Khan

Bahut khoob 👍pad kar sach mein time travel karne ka mann karne laga🥰 keep up the good work my friend 💕

7 सितम्बर 2022

ritu bansal

ritu bansal

Very nice

7 सितम्बर 2022

24
रचनाएँ
आलेख
5.0
यह किताब दैनिक विषयों की समालोचनात्मक समीक्षा का संग्रह है। इस किताब में आप विभिन्न विषयों पर सुंदर आलेख पढ़ सकते हैं।
1

सोशल मीडिया की ताकत

6 सितम्बर 2022
14
8
4

आज के आधुनिक युग में समय से भी अधिक बलवान सोशल मीडिया प्रतीत होता है। आज हम घंटों या कहें तो दिनों की दूरी सोशल मीडिया की एक व्हाट्सएप कॉल व वीडियो कॉल से क्षण भर में तय कर सकते हैं, इसीलिए यह कहना गल

2

टाइम ट्रेवल

7 सितम्बर 2022
12
5
7

समय बहुत बलवान है। समय वह चीज है,जिसे इंसान हमेशा से ही अपने अनुसार चलाना चाहता है, किंतु समय पर किसी की नहीं चलती अपितु समय सबको अपने अनुसार चलाता रहता है।अगर किसी प्रकार हम समय को अपने अनुसार चला सक

3

मेरे अंदर का लेखक

18 सितम्बर 2022
8
4
4

मेरे अंदर का लेखक आज की तेज रफ्तार दुनिया में किसी के पास किसी दूसरे के बारे में सोचने का वक्त ही नहीं है। हर कोई अपनी दुनिया में अपनी जीवन शैली में इतना व्यस्त हो गया है की, उसके आसपास हो रही घटनाओं

4

इच्छा शक्ति

11 अक्टूबर 2022
5
2
3

इच्छा शक्ति….. क्या आप इच्छा शक्ति को मानते हैं? क्या आपको विश्वास है कि हमारी इच्छाओं में भी शक्ति होती है?जी हां ! इच्छा शक्ति….मुझे तो पूर्ण विश्वास है, की इच्छा में अतुल्य शक्ति होती है। वह कहते ह

5

2070 की दुनिया

13 अक्टूबर 2022
2
2
0

दुनिया बदल रही है। हां जी, दुनिया बदल रही है और बहुत तेज रफ्तार से दुनिया बदल रही है।हां ,शायद आने वाले समय में हम नहीं होंगे, पर हमारे जिगर के टुकड़े तो होंगे। और बहुत कामयाब होंगे , इसमें कोई संदेह

6

शिक्षक

13 अक्टूबर 2022
2
1
0

२०१९ में करोना महामारी ने विश्व में अपने पैर फैलाने शुरू कर दिए थे । २ मार्च २०२० तक इस घातक वायरस ने हिंदुस्तान में भी अपने पैर पसारने शुरू कर दिए। और देखते ही देखते २४ मार्च २०२० को संपूर्ण भ

7

सकारात्मक और नकारात्मक सोच

20 अक्टूबर 2022
2
2
0

अगर हम जिंदगी में कुछ पाना चाहते हैं तो हमारी सोच सकारात्मक होनी चाहिए। क्योंकि हम जैसा सोचते हैं, और जैसे शब्दों का उच्चारण करते हैं, हमारे आसपास वैसी ही ऊर्जा एकत्रित होने लगती है।हम जब पूजा करते वक

8

दूरस्थ शिक्षा और शिक्षक

22 अक्टूबर 2022
6
3
1

२०१९ में करोना महामारी ने विश्व में अपने पैर फैलाने शुरू कर दिए थे । २ मार्च २०२० तक इस घातक वायरस ने हिंदुस्तान में भी अपने पैर पसारने शुरू कर दिए। और देखते ही देखते २४

9

मेरी यादगार दिवाली

24 अक्टूबर 2022
3
3
0

अक्सर बच्चे अपने बड़ों से सीखते हैं। चाहे उन्हें कुछ सिखाया जाए या फिर नहीं पर अपने आसपास होती घटनाओं व बातों पर उनका ध्यान हमेशा रहता है और जाने अनजाने में हम उन्हें बहुत कुछ सिखा देते हैं।दीपावली का

10

देवउठनी एकादशी और तुलसी विवाह और कुछ चमत्कारिक उपाय जो आपका जीवन बदल देंगे

4 नवम्बर 2022
1
2
2

देवउठनी एकादशी और तुलसी विवाहहिंदू धर्म में एकादशी व्रत का विशेष महत्व होता है। साल भर कुल 24 एकादशियां आती हैं जिसमें से कार्तिक माह के शुक्ल पक्ष की देवोत्थान एकादशी का विशेष महत्व होता है। एकादशी व

11

त्योहारों का सीजन

8 नवम्बर 2022
1
0
0

वैसे तो हमारा मोहल्ला शांत व सुकून वाला था। हमारे घर के पास ही चार घर छोड़कर असलम चाचा रहते थे। उनकी बेटी शबनम मेरी बहुत अच्छी सहेली थी। वे अक्सर हमारे घर आती जाती थी, खासतौर पर मंगलवार को ।जब भी मेरी

12

शिक्षा का बाजारीकरण

29 नवम्बर 2022
3
3
1

शिक्षा का बाजारीकरण शिक्षा आज के आधुनिक युग में 'ज्ञान मात्र' ना रहकर, बाजार में बिकने वाली एक 'वस्तु मात्र' बनकर रह गई है। जिस प्रकार जब माता-पिता बाजार जाते हैं और बच्चे अलग-अलग खिलौने देखकर किसी मह

13

सत्य और अहिंसा

18 दिसम्बर 2022
2
0
0

“पिताजी -पिताजी देखो आर्यन ने मेरी चॉकलेट छीन ली, आप इसकी पिटाई करो। “, रोती बिलखती ३ साल की शायना अपने पिता अक्षय से अपने बड़े भाई की नाइंसाफी की गुहार लगा रही थी। “अरे स

14

सविनय अवज्ञा

30 दिसम्बर 2022
3
1
0

सविनय अवज्ञासविनय अवज्ञा का अर्थ किसी चीज का विनम्रता के साथ उल्लंघन करना होता है।अर्थात सविनय अवज्ञा का मौलिक अर्थ अहिंसक हिंसा व विरोध कहा जा सकता है।जब भी कानून पद्धति में अपकार बोध हो तो, उसका विर

15

खिलाड़ियों की आवाज

19 जनवरी 2023
4
1
0

खिलाड़ियों की आवाजखिलाड़ी जो हमारे देश को मान सम्मान दिलाते हैं, जो हमारे देश की पहचान है, हमारे सिर जिनकी कठिन मेहनत , तप व मनोबल से गर्वित है , आज वही खिलाड़ी अपने मान व सम्मान की रक्षा के लिए भारत

16

लिथियम भंडार

12 फरवरी 2023
6
1
0

लिथियम एक ऐसी धातु है जिसने आज के युग में क्रांति ला दी है। यह आवर्त सारणी का तीसरा तत्व है और बहुत ही हल्की धातु है। इसका प्रमुख उपयोग बैटरी बनाने के लिए किया जाता है जो कि लै

17

केवल परिवर्तन ही स्थाई है

21 फरवरी 2023
4
2
2

परिवर्तन प्रकृति का नियम। समाज में परिवर्तन की प्रक्रिया सदैव चलती रहती है। यह परिवर्तन कई चीजों पर निर्भर करता है एवं इसकी गति और दिशा हर समाज में अलग-अलग होती है। परिवर्तन प्राकृतिक और सांस्कृतिक

18

दिल्ली एमसीडी चुनाव

24 फरवरी 2023
1
1
0

चुनाव शब्द से हम सब भली भांति वाकिफ हैं। हमारे देश में अलग-अलग स्तरों पर अलग-अलग चुनाव होते हैं जिसमें से एमसीडी यानी कि मुंसिपल कॉरपोरेशन डिवीजन का चुनाव अपना ही महत्व रखता है।भारत की राजधानी दिल्ली

19

कैसी रिटायरमेंट

1 मार्च 2023
4
1
0

जिंदगी की उधेड़बुन में कब ऐसा मुकाम आ जाता है जब समय हमें बताता है - रुक जाओ, अपनी गति को धीमी कर लो, बस अब बहुत हो गया थोड़ी सांस ले लो और आराम करो। तब कहीं जाकर हम राहत की सांस लेते हैं और अपने आप क

20

होलिका दहन

8 मार्च 2023
3
1
0

होलीका दहन हिंदू धर्म के एक प्रमुख त्योहार है, जो भारत में हर साल फाल्गुन पूर्णिमा के दिन मनाया जाता है। इस दिन लोग होली का त्योहार मनाते हैं और रंगों से खेलते हैं।होली का दहन भारत के विभिन्न हिस्सों

21

होली

8 मार्च 2023
3
1
0

होली एक प्रसिद्ध हिंदू त्योहार है जो भारत में हर साल फाल्गुन माह के पूर्णिमा को मनाया जाता है। इस त्योहार को रंगों का त्योहार भी कहते हैं क्योंकि इस दिन लोग एक दूसरे पर रंग फेंकते हैं और मिठाई खाते है

22

यादें बचपन की

26 मार्च 2023
6
5
0

आज याद आ रहा है ना जाने मुझे क्यों वह आंगन, वह हरे भरे खेतों में दौड़ना, वह कच्चे आमों की सुगंध, वह तितलियों के संग भागना, वो करनी सहेलियों से चिढ़हन, वह भाई के साथ पंजा लड़ाना, उसके जीत जाने पर करनी

23

आईपीएल से जुड़े विवाद

1 अप्रैल 2023
5
3
0

आईपीएल और आईपीएल से जुड़े विवाद,कहां तक है यह सत्य जनाब,मैच फिक्सिंग की धांधलेबाजियां,लूट ले गए वह सारे खिताब..धूल में मिले जो बैठे थे बन हमारे सरो ताज,उठे जब सबके चेहरों से नकाब,खुल गए सारे ढके हुए र

24

आईपीएल से जुड़े विवाद

17 मई 2023
1
1
0

आईपीएल और आईपीएल से जुड़े विवाद, कहां तक है यह सत्य जनाब, मैच फिक्सिंग की धांधलेबाजियां, लूट ले गए वह सारे खिताब.. धूल में मिले जो बैठे थे बन हमारे सरो ताज, उठे जब सबके चेहरों से नकाब, खुल गए सारे ढके

---

किताब पढ़िए

लेख पढ़िए