shabd-logo

जनरल बुक्स की किताबें

हे राम : गाँधी हत्याकांड की प्रामाणिक पड़ताल

गांधी हत्याकांड का सच सिर्फ इतना भर नहीं है कि 30 जनवरी 1948 की एक शाम गोडसे बिड़ला भवन आया और उसने गांधी को तीन गोली मार दीं। दरअसल, गांधी हत्याकांड को संपूर्ण रुप से समझने के लिये इसकी पृष्ठभूमि का तथ्यात्मक अध्ययन अति आवश्यक है। इस पुस्तक में गांध

163 पाठक
1 लोगों ने खरीदा
3 अध्याय
16 मार्च 2023
अभी पढ़ें
599
प्रिंट बुक

महाभारत का रहस्य

224 ईसापूर्व महान सम्राट अशोक को एक प्राचीन और भयावह रहस्य का पता चलता है - एक ऐसा रहस्य जो महाभारत की गहराईयों मैं समाया था; ऐसा रहस्य जो दुनिया को नष्ट कर सकता है; ऐसा जो 2300 वर्षों से छुपा हुआ था|वर्तमान काल एक सेवानिवृत परमाणु वैज्ञानिक की हत्या

38 पाठक
0 लोगों ने खरीदा
3 अध्याय
22 मार्च 2023
अभी पढ़ें
295
प्रिंट बुक

इकिगाई (Ikigai)

बेस्टसेलर इकिगाई के लेखकों की कलम से अगली किताब Understand Your Strenght and Demonstrate आपके जीवन का उद्देश्य ही आपकी ताकत है। जापानी लोगों का ऐसा मानना है कि हर इंसान का इकिगाई होता ही है। इकिगाई ही आपके अस्तित्व का कारण है। जितनी कम उम्र में हमें

12 पाठक
0 लोगों ने खरीदा
2 अध्याय
25 अप्रैल 2023
अभी पढ़ें
280
प्रिंट बुक

ई इलाहाब्बाद है भइया

पूरब का ऑक्सफ़ोर्ड' और 'साहित्य की राजधानी' जैसे और भी कई विशेषणों से मशहूर शहर इलाहाबाद को एक पत्रकार और उभरते कहानीकार ने जैसा देखा, जिया और भुगता, हूबहू वैसा उतार दिया है। इस अलहदा शहर की मस्ती, इसकी बेबाकी और इसमें मिली मोहब्बत का कोलाज है यह किता

0 पाठक
0 लोगों ने खरीदा
0 अध्याय
27 मार्च 2023
अभी पढ़ें
150
प्रिंट बुक

 कम्युनिस्ट चीन : अवैध अस्तित्व

"यह अल्पज्ञात तथ्य है कि चीन का ‘चीन’ नाम भारत का दिया हुआ है। चीन तो स्वयं को झुआंगहुआ कहता है। इससे भी अल्पज्ञात तथ्य यह है कि महाभारत काल में चीन भारत के सैकड़ों जनपदों में से एक था। प्रशांत महासागर के तट पर पीत नदी के पास यह लघु राज्य भारत से हजा

0 पाठक
0 लोगों ने खरीदा
2 अध्याय
4 अप्रैल 2023
अभी पढ़ें
300
प्रिंट बुक

बातें कम स्कैम (Scam) ज्यादा

लोगो के पूर्व में दिए हुए प्यार, स्नेह और ऊर्जा को आधार बनाकर एक बार फिर कुछ रचनाएँ आपके हवाले कर रहा हूँ। रचनाएँ अच्छी बनी हैं या बुरी, ये तो पाठक ही तय करेंगे, मगर इतना जरूर कह सकता हूँ कि इन्हें लिखने, सुधारने और सँवारने में मैंने अपना सबकुछ झोंक

4 पाठक
0 लोगों ने खरीदा
2 अध्याय
3 अप्रैल 2023
अभी पढ़ें
250
प्रिंट बुक

Marma Chikitsa Vigyan

A Science that was preserved and associated largely as a support to martial arts and warfare can now be used and applied for normal healing on a wide range of physical and mental diseases as a result of research and application, since 1993, of this l

0 पाठक
0 लोगों ने खरीदा
0 अध्याय
23 फरवरी 2023
अभी पढ़ें
450
प्रिंट बुक

स्माइली वाली लड़की

इस अफ़साने को लिखने की एक वजह यह भी रही कि मुझे स्माइलियों की भाषा बहुत रोचक जान पड़ी थी। मेरी एक चिंता यह भी थी कि इसके साथ हमारे शब्द, उनमें छुपे एहसास, एहसासों को ज़ाहिर करने के इंसानी तौर-तरीक़े, इंसान का अपना शब्दकोश, ये सब मर तो नहीं रहे हैं। म

0 पाठक
0 लोगों ने खरीदा
0 अध्याय
21 मार्च 2023
अभी पढ़ें
249
प्रिंट बुक

सावरकर: काला पानी और उसके बाद

यह किताब एक सावरकर से दूसरे सावरकर की तलाश की एक शोध-सिद्ध कोशिश है। सावरकर की प्रचलित छवियों के बरक्स यह किताब उनके क्रांतिकारी से राजनेता और फिर हिन्दुत्व की राजनीति के वैचारिक प्रतिनिधि तथा पुरोधा बनने तक के वास्तविक विकास क्रम को समझने का प्रयास

8 पाठक
0 लोगों ने खरीदा
2 अध्याय
16 मार्च 2023
अभी पढ़ें
224
प्रिंट बुक

रिच डैड पुअर डैड

यह बेस्टसेलिंग पुस्तक सरल भाषा में सिखाती है कि पैसे की सच्चाई क्या है और अमीर कैसे बना जाता है। लेखक के अनुसार दौलतमंद बनने की असली कुंजी नौकरी करना नहीं है, बल्‍कि व्यवसाय या निवेश करना है। यह मिथक तोड़ती है कि अमीर बनने के लिए ज़्यादा कमाना ज़रूर

2 पाठक
0 लोगों ने खरीदा
3 अध्याय
27 अप्रैल 2023
अभी पढ़ें
499
प्रिंट बुक

Stress Management Guide

Stress Management Guide Read more

0 पाठक
0 लोगों ने खरीदा
0 अध्याय
6 मई 2023
अभी पढ़ें
150
प्रिंट बुक

तुम्हारी औकात क्या है

पीयूष मिश्रा जब मंच पर होते हैं तो वहाँ उनके अलावा सिर्फ़ उनका आवेग दिखता है। जिन लोगों ने उन्हें मंडी हाउस में एकल करते देखा है, वे ऊर्जा के उस वलय को आज भी उसी तरह गतिमान देख पाते होंगे। अपने गीत, अपने संगीत, अपनी देह और अपनी कला में आकंठ एकमेक एक

3 पाठक
0 लोगों ने खरीदा
2 अध्याय
21 मार्च 2023
अभी पढ़ें
299
प्रिंट बुक

पगडंडी में पहाड़ (Pagdandi Me Pahad)

हिमाच्छादित पहाड़ की छटा, उनमें उमड़ते-घुमड़ते मखमली बादल, दूर तक कल-कल करते झरनों-सरिताओं के स्वर, देखने-सुनने में जितने मनमोहक होते हैं, वहाँ का जीवन उतना ही कठिन होता है। कभी भूस्खलन तो कभी बादल फटने जैसी घटनाएँ आमतौर पर देखी जाती हैं। सुख-सुविधाओ

0 पाठक
0 लोगों ने खरीदा
0 अध्याय
22 मई 2023
अभी पढ़ें
575
प्रिंट बुक

दिल्ली का पहला प्यार कनॉट प्लेस

कनॉट प्लेस से मेरा पहला साक्षात्कार संभवतः 1970 के आसपास हुआ था। मतलब मुझे तब से इसकी यादें हैं। इसके आसपास दशकों तक रहना, पढ़ना, नौकरी करना, घूमना, फ़िल्में देखना वग़ैरह जिंदगी का हिस्सा रहा। यह सिलसिला बदस्तूर जारी है। जब तक जिंदगी है, तब तक कनॉट प

1 पाठक
0 लोगों ने खरीदा
2 अध्याय
4 अप्रैल 2023
अभी पढ़ें
165
प्रिंट बुक

Ek Adhuri Kahani

Chhote se gaaw ki kahani janha do kirdar ak hi sath padhte hai. Ishq hota hai.dono ak dusre se bepanaah mohabbat karte hai. Ladki aage jati hai .UPSC crack kar leti hai.ladka insecurity aur sab mansik chinatan ,wo kaha kiske sath hogi.isi me uljha ho

0 पाठक
0 लोगों ने खरीदा
0 अध्याय
13 फरवरी 2023
अभी पढ़ें
99
प्रिंट बुक

मारण मंत्र

समय के चालाक और कुटिल हेर-फेर के बाद बनारस के घोर-घनघोर जीवन को एक ऐसे किस्सागो की जरूरत थी, जो वक्त के साथ उतनी ही बेहयाई और बेरहमी से पेश आने की कुव्वत रखता हो। विमल चन्द्र पाण्डेय इस जरूरत को पूरा करते हैं। उनकी कहानी ‘जिन्दादिल’ का सिर्फ एक वाक्य

0 पाठक
0 लोगों ने खरीदा
0 अध्याय
27 मार्च 2023
अभी पढ़ें
199
प्रिंट बुक

इंदिरा फाइल्स

लेकिन इंदिरा गांधी ही क्यों? आजाद भारत में इंदिरा गांधी वंशवाद का सबसे बड़ा और पहला उदाहरण हैं। वंशवाद का एक ऐसा उत्पाद, जिसको लौह महिला भी कहा जाता है और दूसरी तरफ आपातकाल थोपने के लिए हर साल उनकी तानाशाही को श्रद्धांजलि भी दी जाती है। एक तरफ

0 पाठक
0 लोगों ने खरीदा
2 अध्याय
21 मार्च 2023
अभी पढ़ें
450
प्रिंट बुक

हॉकी के जादूगर मेजर ध्यानचंद

हॉकी सम्राट्’ और ‘हॉकी के जादूगर’ जैसे विशेष्णों से विभूष्त मेजर ध्यानचंद का नाम किसी के लिए भी अपरिचित नहीं है। बचपन में उनमें एक खिलाड़ी के कोई क नहीं थे, इसलिए कह सकते हैं कि उनमें के खेल की प्रतिभा जन्म जात नहीं थी।उन्होंने अपनी सतत साधना, लगन, अ

0 पाठक
0 लोगों ने खरीदा
2 अध्याय
20 मार्च 2023
अभी पढ़ें
150
प्रिंट बुक

रामराज्य

प्रसिद्ध फिल्म अभिनेता आशुतोष राना की यह पुस्तक मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम के जीवन-दर्शन पर आधारित है। उन्होंने अपनी विशिष्ट लेखन शैली में उन प्रसंगों की व्याख्या की है जो आमजन के मस्तिष्क में उमड़ते-घुमड़ते रहे हैं। पुस्तक इतनी रोचक है कि एक बार पढ़ना

3 पाठक
0 लोगों ने खरीदा
2 अध्याय
20 मार्च 2023
अभी पढ़ें
429
प्रिंट बुक

Satya Ki Vijay Rajiv Gandhi Ki Hatya

Satya Ki Vijay Rajiv Gandhi Ki Hatya Read more

0 पाठक
0 लोगों ने खरीदा
0 अध्याय
21 फरवरी 2023
अभी पढ़ें
450
प्रिंट बुक

किताब पढ़िए

लेख पढ़िए